साइबर अपराधियों का शिकार हुए बिहार डीजीपी।।।

बिहार डीजीपी शिकार हुए

कोविड -19 को लेकर लेकर सोशल मीडिया के जरिये अब डीजीपी के नाम पर साइबर फ्रॉड का मामला सामने आया है. कुछ साइबर अपराधियों ने फेसबुक पर डीजीपी गुप्तेश्वर पांडेय के नाम से फर्जी पेज बनाकर पोस्ट की हैं. इस पेज पर कई गलत जानकारी दी गयी है. कई लोगों को फ्रेंड रिक्वेस्ट भेजी गयी है. इन पोस्ट को देखने से हर किसी को यही लग रहा था कि डीजीपी ही लोगों को अपना दोस्त बनाने का अनुरोध कर रहे हैं.

डीजीपी से मीडिया ने जब साइबर फ्रॉड को लेकर सवाल पूछा, तो उन्होंने कहा कि साइबर अपराध के कई मामले सामने आये हैं. किसी ने उनके नाम का ही फेसबुक का फर्जी पेज बना लिया है. उन्होंने बताया कि मेरे नाम से जब एक मित्र को फेसबुक फेंड रिक्वेस्ट मिली, तो उन्होंने मुझे इसकी जानकारी दी. डीजीपी से जुड़े इस मामले की जांच साइबर सेल कर रही है. डीआइजी मनु महाराज दो बार बने शिकार डीआइजी मुंगेर मनु महाराज दो बार साइबर क्राइम के शिकार हो चुके हैं.

मार्च में उनका फर्जी फेसबुक अकाउंट बनाकर दो लोग एक निजी कोचिंग का प्रचार- प्रसार कर रहे थे. मामले में गया से नीरज कुमार और धीरज कुमार को गिरफ्तार किया था. धीरज डीआइजी के फर्जी फेसबुक अकाउंट के जरिये लड़कियों को ब्लैकमेल करता था. पांच दिन पहले भी उनका फर्जी एफबी पेज बनाने का मामला सामने आया था. इस बार रोहतास के किसी युवक ने यह साइबर क्राइम किया था. इसकी जांच चल रही है.

Leave a Reply

%d bloggers like this: