घर में छुपे खजाने को खोजने के बहाने तांत्रिक ने किया दुष्कर्म

महाराष्ट्र के पुणे में पिंपड़ी-छिंदवाड़ा में एक तांत्रिक ने एक घर में रह रही पांच बहनों के साथ दुष्कर्म किया पांच में 4 नाबालिग थी और तांत्रिक ने यौन उत्पीड़न की वारदात को यह कहते हुए अंजाम दिया कि वह उन्हें गर्भधारण करने और घर में छुपे खजाने का पता लगाने में मदद करेगा। एक वरिष्ठ पुलिस अधिकारी ने बताया कि सोमवार को पीड़ितों की सबसे बड़ी बहन ने सभी बात पुलिस को बताई उसके बाद पुलिस ने छानबीन करने के बाद मामला दर्ज किया है। उत्पीड़न की वारदात जनवरी-फरवरी, 2019 के बीच की हैं।

अधिकारी ने बताया की पीड़िता का कहना है कि 32 वर्षीय आरोपी सोमनाथ चव्हाण ने उसे बताया कि उनके परिवार पर किसी ने काला जादू किया है उस वजह से तुम्हारे घर में लड़कियां कभी गर्भधारण नहीं कर पाएंगी उसके बाद तांत्रिक ने उन्हें यह भी कहा कि तुम्हारी बहनों में से एक की जान खतरे में हैं और वह अनुष्ठान करके उसकी जान बचा लेगा। 

इसके अलावा वह घर में छुपे खजाने का पता लगाने में भी मदद करेगा। आरोपी ने अनुष्ठान के लिए पांच लाख रुपये भी मांगे थे। आरोपी ने पांचों बहनों का यौन उत्पीड़न और दुष्कर्म भी किया और इसका खुलासा करने पर जान से मारने की धमकी भी दी। पुलिस ने भारतीय दंड संहिता की संबंधित धाराओं के तहत मामला दर्ज कर लिया है।

Leave a Reply

%d bloggers like this: