पीके के ‘बात बिहार की’ कार्यक्रम का आगाज,जून तक एक करो़ड़ लोगों को जोड़ने की मुहीम

प्रशांत किशोर बात बिहार की

10 सालों में बिहार की तस्वीर देश में बदलने के लिए चुनावी रणनीतिकार प्रशांत किशोर आज से अपने महत्वाकांक्षी कार्यक्रम ‘बात बिहार की’ को लॉन्च कर रहे है। कार्यक्रम के तहत प्रशांत किशोर जून तक 1 करोड़ लोगों को अपने से जोड़ने का लक्ष्य रखा है। प्रशांत किशोर की मानें तो अब तक करीब तीन लाख युवा उनकी इस मुहिम से जुड़ चुके है जिसमें कई पार्टियों के सक्रिय सदस्य भी शामिल है।

अभियान में शामिल होने के इच्छुक लोग वेबसाइट www.baatbiharki.in पर क्लिक करके या 690099008 नंबर पर मिस्ड कॉल दे सकते हैं। इससे पहले मंगलवार को श्री किशोर ने सत्ता में बने रहने के लिए वैचारिक समझौता करने के लिए मुख्यमंत्री नीतीश कुमार पर हमला किया। “गांधी और गोडसे की दोनों विचारधाराएँ एक साथ नहीं चल सकतीं,” श्री किशोर ने एक भीड़ भरे प्रेस कांफ्रेंस में कहा।

राष्ट्रीय उपाध्यक्ष के रूप में प्रशांत किशोर नितीश कुमार के साथ थे, लेकिन नागरिकता संशोधन अधिनियम, राष्ट्रीय जनसंख्या रजिस्टर पर पार्टी के रुख पर आपत्ति जताने के बाद उन्हें पार्टी से निष्कासित कर दिया गया था।नीतीश-जी ने हमेशा कहां है कि वे गांधी, जेपी और लोहिया के आदर्शों को नहीं छोड़ सकते … लेकिन साथ ही, वह उन लोगों के साथ कैसे हो सकते हैं जो गोडसे की विचारधारा का समर्थन करते हैं। दोनों साथ नहीं जा सकते। अगर आप भाजपा के साथ रहना चाहते हैं, तो मुझे इसमें कोई दिक्कत नहीं है, लेकिन आप दोनों तरफ से नहीं हो सकते हैं, श्री किशोर ने कहा।

Leave a Reply

%d bloggers like this: